Organic Traffic क्या है और कैसे बढ़ाए? जानकारी हिन्दी में

Kya aap jante hai ke organic traffic क्या है और ये website के लिए क्यों जरुरी है? , website traffic ka matlab kya hai har ek blogger aur website designer ke liye bahut jaruri hai.

इसको लेकर आपके मन में बहुत सवाल होगा. तो आज हम उसी सब सवाल के बारे में बात करेंगे. आप अपने blog/website को successful बनाने के लिए bloggers प्रत्येक दिन कुछ ना कुछ नया सीखते रहते हैं, जिससे की वो नया नया कुछ कुछ पोस्ट अपने blog में करते रहते है जिससे उनका blog धीरे धीरे मसहुर हो जायेगा.

वेब Traffic क्या है? अपने Blog पर ज्यादा ट्राफिक कैसे लें?

वेब ट्रैफिक एक medium होता है, जिसके जरिये हम यूजर को अपनी वेबसाइट पर लाते है, इसमें यूजर हमारे शेयर हुए पोस्ट को रीड करते है, और अपनी जानकारी हासिल करते है।

ट्रैफिक का मतलब होता है, कि डिफरेंट मेडियम जैसे सोशल मीडिया , यूट्यूब, और वेबसाइट के जरिये आपके वेबसाइट पर आना वेब ट्रैफिक कहलाता है। अगर आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक आ रहा है तो इसका मतलब है कि आपकी जो कंटेंट है उससे यूजर को कुछ सीखने को मौका मिल रहा है और आपकी दी गई जानकारी लोगो को ज्यादा पसंद आ रही है इसलिए आपकी वेबसाइट पर ज्यादा लोग आ रहे है जिससे आपकी ट्रैफिक ज्यादा होने लगती है जितना ज्यादा ट्रैफिक होगी उतना ही आपकी वेबसाइट का वैल्यू ज्यादा होगा और आपकी वेबसाइट हमेशा रैंक में रहेगी ऐसा इसलिए क्युकी आपकी कंटेंट वैल्युएबल है और लोग पसंद कर रहे है।

ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए बहुत सारे माध्यम है जिसमे आपको निचे बताया गया है फॉलो कीजिये इन सारी बातो का।

  • आपकी वेबसाइट का कंटेंट जेनुइन होनी चाहिए
  • आपकी हर कंटेंट से लोगो को कुछ सीखने का मौका मिले। आप हमेशा लोगो के मन मुताबिक इन्फोर्मशन दीजिये जैसे उनको चाहिए। जैसे कि यूजर द्वारा क्या सर्च किया जा रहा है उसी से रिलेटेड आप पोस्ट कीजिये उनके सवालों का answer अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखकर शेयर कीजिये, जिससे आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक आएगी।
  • आप सोशल मीडिया का हेल्प लीजिये सारे सोशल प्लेटफार्म पर अपनी पोस्ट शेयर कीजिये जिससे सोशल मीडिया से भी ट्रैफिक मिलेगी।
  • और लास्ट में आप SEO कीजिये SEO क्या है? जानिए।
Organic Traffic क्या है? और कैसे बढ़ाए? जानकारी हिन्दी में

ब्लॉग पर बिलकुल भी ट्रैफिक नहीं है, मुझे क्या करना चाहिए?

आपके वेबसाइट पर बिलकुल भी ट्रैफिक नहीं आ रहा है तो इसके लिए बहुत सारे उपाए है जिनको आप अपनाकर अपने वेबसाइट यानि ब्लॉग पर ढेर सारा ट्रैफिक ला सकते है।

  • आप अपने ब्लॉग यानि वेबसाइट पर डेली एक SEO फ्रेंडली आर्टिकल लिखे प्रॉपर तरीके से सभी टैग्स को ऑप्टिमाइज़ कीजिये फिर ऑनलाइन पब्लिश्ड कीजिये।
  • आप अपने ब्लॉग पोस्ट का लिंक सारे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर कीजिये ताकि ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक मिले।
  • हमेशा ओरिजिनल कंटेंट को लिखे किसी ऑनलाइन ब्लॉग से या वेबसाइट से कंटेंट को कभी मत चुराइए नहीं तो आपकी ब्लॉग कभी रैंक नहीं होगी और ना ट्रैफिक आएगी आपकी ब्लॉग पर इसलिए इस सभी बातो का ध्यान रखिये।
  • आप अपने वेबसाइट में ads कम से कम प्रयोग कीजिये जिससे आपकी वेबसाइट का स्पीड तेज रहे है नहीं तो वेबसाइट स्लो होने के वजह से आपके वेबसाइट पर लोग नहीं आएंगे। इस सभी टेक्नीक को अपनाकर आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक ला सकते है।

ऑर्गेनिक ट्रैफिक क्या है?

organic ट्रैफिक : -

अगर कोई यूजर गूगल के सर्च इंजन पर आता है, और अपने सवाल को टाइप करके सर्च करता है तो उसके सिस्टम में बहुत सारा इनफार्मेशन आ जाती है जो गूगल के फर्स्ट पेज पर 10 रिजल्ट आते है, उन्हें आर्गेनिक ट्रैफिक कहा जाता है। और यूजर उन्ही 10 लिंको में से किसी एक लिंक पर क्लिक करके अपना इनफार्मेशन को उस वेबसाइट के जरिये लेते है। जो टॉप ten के रिजल्ट है, वो बिलकुल फ्री होता है, उन्हें किसी भी प्रकार का पेमेंट गूगल को नहीं देना होता है।

आर्गेनिक ट्रैफिक सबसे अच्छा ट्रैफिक माना जाता है जो हमेशा आपकी वेबसाइट का वैल्यू को इनक्रीस करता है, और यूजर भी आपकी वेबसाइट को like करते है। क्युकी आपकी पोस्ट अच्छी होती है। यह नॉन प्रमोटेड ट्रैफिक होता है।

आप ऑर्गेनिक ट्रैफिक कैसे प्राप्त करते हैं?

अगर आपको आर्गेनिक ट्रैफिक पाना है, तो गूगल के सारे रूल्स को फॉलो करना होगा जो निम्न है: -

1. आप हमेशा लॉन्ग कंटेंट लिखे ताकि आप अपने competitor को बीट कर सके और उससे आगे हो सके।

2. आप हमेशा कंटेंट competitor के कंटेंट से ज्यादा वैल्युएबल लिखे अच्छे से हैडिंग को लिखिए और अच्छे से स्टेप by स्टेप यूजर को समझाइये सरल भाषा में लिखकर ताकि यूजर को किसी प्रकार का कोई दिकत न हो जानकारी लेते समय।

3. आप हमेशा कंटेंट लिखिए तो SEO फ्रेंडली कंटेंट लिखिए इसका मतलब आप जो कंटेंट लिख रहे है, वो गूगल पर लोगो द्वारा ज्यादा सर्च किया जाया जा रहा हो, और यूजर उसके बारे में जानकारी चाहते हो, और प्रॉपर तरीके से सारे कंटेंट को ऑप्टीमाइज़्ड कीजिये गूगल के कंटेंट पालिसी के अनुसार।

4. आप जो भी इनफार्मेशन दे रहे हो उसका इंटेंशन क्या है? आपकी जो इंटेंशन है, कॉम्पिटिटर के इंटेंशन से बेहतरीन होनी चाहिए। अगर कोई यूजर आये, तो आपकी पोस्ट उसे इतना अच्छा लगे की बार बार आपकी पोस्ट रीड करे, और हमेशा फॉलो भी करे।

5. कोई भी पोस्ट लिखने से पहले आप प्रॉपर तरीके से रिसर्च कीजिये, और हेल्पफुल इनफार्मेशन कलेक्ट कीजिये फिर यूजर के सामने एक अच्छे लेआउट में रखिये। जिससे यूजर को डिज़ाइन के साथ कंटेंट फॉर्मेट में अच्छा लगे। आप हमेशा कोशिश कीजिये कि आपकी पोस्ट पर ज्यादा एड्स न हो, नहीं तो यूजर इर्रिटेट हो जाते है, क्युकी यूजर जो चाहते है, उनके सामने वही ज्यादा रखिये।

6. हमेशा हेल्पफुल इनफार्मेशन शेयर कीजिये, डायग्राम के साथ जो आप बता रहे है, उन्हें एक पिक्चर में एक्सप्लेन कीजिये जिससे गूगल हमेशा कोशिश करेगा की आपकी पेज को टॉप में रखना।

7. आप अपनी पोस्ट में एक वीडियो डालिये अगर किसी यूजर को रीडिंग करना अच्छा नहीं लगे तो वह आपकी वीडियो देख सके जिससे आपकी वेबसाइट पर वह यूजर ज्यादा देर तक स्टे करे जितना ज्यादा स्टे करेगा उतना ही आप गूगल के नजर में वैल्युएबल होंगे।

इन सारे दी गई जानकारी को फॉलो कीजिये और अपनी वेबसाइट में इम्प्लीमेंटेशन कीजिये आपकी भी पोस्ट आर्गेनिक ट्रैफिक में आ जाएगी।

जब कोई यूजर Google पर किसी specific term सर्च करता है, तो उसके सामने रिजल्ट की एक लिस्ट आ जाती है। आमतौर पर, पहले तीन results paid ads रिजल्ट होते हैं, जिनकी वेबसाइट को मिलने वाले प्रत्येक क्लिक की कीमत होती है। फिर, नीचे, जितने भी आपके सामने रिजल्ट दिखेंगे, वह सभी results systematically रूप से रैंकिंग होंगे। जो कीवर्ड जितना आगे होता है, उसको उतना ही ट्रैफ़िक मिलता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोगों द्वारा रिजल्ट पेज पर दिखाई देने वाले पहले रिजल्ट पर क्लिक करने की अधिक संभावना होती है।

Website पर organic traffic कैसे बढ़ाएं

यह किसी भी business के लिए मिलियन में प्रश्न होता है, और दुर्भाग्य से, यहां कोई जादुई सूत्र आप कुछ बातो का ध्यान में रखकर आप अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक ला सकते है।

हालाँकि, ऐसे सिद्ध steps and practices हैं, जिनका फ्लो करके आप व्यवस्थित रूप से विकसित हो सकते हैं, और अपनी वेबसाइट पर अधिक visitors को आकर्षित कर सकते हैं।

1. SEO Optimization - एसईओ ऑप्टिमाइजेशन

जो वेबसाइट अच्छी तरह से seo के रूल को फॉलो करते हुए अपनी वेबसाइट के प्रत्येक पोस्ट को लिखा गया। वैसे वेबसाइट सर्च इंजन में ज्यादा रैंक करती है। वेबसाइट के बहुत सारे ऑप्टिमाइजेशन तकनीक हैं, जो आपकी वेबसाइट को रैंकिंग करने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है :-

  • कीवर्ड रिसर्च - आप seo फ्रेंडली कीवर्ड रिसर्च करके अपने पोस्ट लिखे।
  • ऑन - पेज - ऑप्टिमाइजेशन : - आप अपनी वेबसाइट के पोस्ट के सारे टैग को अच्छी तरह चेक करे उसमे हैडिंग, इमेज, पैराग्राफ, इमेज टाइटल सभी टैग को ऑप्टीमाइज़्ड करे फिर पोस्ट को शेयर करे।
  • वेबसाइट लोडिंग स्पीड : - आप आपने पोस्ट में ज्यादा js प्लगिंस का यूज़ न करिये ज्यादा हाई mb का इमेज भी अपने पोस्ट में न रखिये, और यूट्यूब वीडियो भी एम्बेड मत कीजिये। यूट्यूब वीडियो के जगह पर लिंक दे दीजिये, ताकि यूजर लिंक पर क्लिक करके वीडियो देख सके। ये सभी फैक्टर है, जो आपकी वेबसाइट को स्लो कर देती है, और वेबसाइट रैंक नहीं कर पाती है। इसलिए हमेशा इन बातो का खासकर ध्यान रखिये।
  • मोबाइल फ्रेंडली : - आपकी जो पोस्ट होगी या वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली होनी चाहिए। इसका मतलब यह की आपकी जो कोई वेबसाइट यूज़ करेगा, उस यूजर के मोबाइल पर , टेबलेट पर, और डेस्कटॉप या किसी भी प्रकार का मीडिया स्क्रीन पर उस यूजर के स्क्रीन के मुताबिक कंटेंट को मैनेज कर ले, और यूजर के सामने एक अच्छा लेआउट डिज़ाइन के रूप में कंटेंट को डिस्प्ले करे, जिससे यूजर आपकी पोस्ट को रीड कर सके। उन्हें किसी प्रकार का दिकत न हो।

2. वैल्युएबल कंटेंट :-

आप हमेशा वैल्युएबल कंटेंट लिखे जिससे लोग ज्यादा आपकी कंटेंट को वैल्यू दे और ज्यादा रीड करे, और वैल्युएबल कंटेंट को लोग ज्यादा शेयर करते है, जिससे आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक काफी अमाउंट में आये और गूगल के सर्च इंजन पर हमेशा टॉप में रहे।

Google को ऐसी कंटेंट पसंद है जो SEO के लिए अच्छी तरह से ऑप्टीमाइज़्ड हो, लेकिन केवल तभी जब वह आपके विज़िटर्स को भी attract करे। इसलिए आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है, कि आप पहले वैल्यू कंटेंट शेयर करे, और अपने आने वाले विज़िटर्स की मदद करने के लिए हर संभव प्रयास करे।

3. High Volume Keywords - उच्च मात्रा वाले कीवर्ड:-

SERPs में आपकी रैंकिंग में सुधार करने से आपकी वेबसाइट पर अधिक ट्रैफ़िक आएगा। लेकिन यह केवल पहले रैंकिंग के बारे में नहीं है। उदाहरण के लिए, आप 100 कीवर्ड के लिए पहले स्थान का दावा कर सकते हैं, और फिर भी कोई विज़िटर नहीं मिल सकता है। यह केवल इसलिए है, क्योंकि आपके द्वारा चुने गए कीवर्ड की सर्च मात्रा कम है। आप जो पोस्ट शेयर कर रहे हैं उसमें लोगों की दिलचस्पी नहीं है, इसलिए, वे कीवर्ड आपके लिए कोई ट्रैफ़िक नहीं लाएंगे। इसलिए आपको कुछ High Volume Keywords पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, भले ही वे कॉम्पिटिटिव क्यों न हों।

अपनी वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफ़िक बढ़ाने के लिए कुछ आसान SEO strategies खोजें

निष्कर्ष - Conclusion

आज हमलोग Website के Organic Traffic क्या है – What is Organic Traffic ? बारे में हमलोग जाने। आशा करते है आप सभी लोग जान चुके होंगे जो हमने जानकारी दी , अब आपलोगो के मन में कोई प्रशन नहीं होगा प्लीज शेयर करे इस पोस्ट को ताकि जयदा लोग जान पाए Traffic kya hai , seo me organic traffic kyu important hai

Digital Marketing Kya Hai

SEO Kya Hai

Trending Topics

News

Mobile

Internet

Software

Computer

Digital Marketing

Youtube Tourist Place Vlog