Seo Kya hai - SEO क्या है? SEO क्यों जरुरी है?

हेलो दोस्त आज हमलोग SEO के बारे में जानेंगे की SEO में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन होता है इसका मतलब की अपने वेबसाइट के कंटेंट को सर्च इंजन के अनुकूल बनाना ताकि सर्च इंजन के फर्स्ट पेज पर रैंक करे इसके लिए हमलोग On पेज SEO करते है ऑफ पेज SEO करते है। बैकलिंक्स क्रिएट करते है हाई डोमेन अथॉरिटी वेबसाइट पर , अपने प्रत्येक वेबसाइट के पेज में SEO फ़रिनेदलय हैडिंग रखना चाहिए जो यूजर सर्च कर रहा हो उसी से रिलेटेड कीवर्ड रखते है गुड पेज टाइटल रखना चाहिए गुड कंटेंट रखना चाहिए।

इमेज लगानी चाहिए एक पोस्ट में कम से कम ५ या ६ इमेज उसी कंटेंट से रिलेटेड इमेज लगनी चाहिए SEO में इमेज भी बहुत इम्पोर्टेन्ट रोले प्ले करता है। ये सब करने के बाद हम अपने वेबसाइट को गूगल वेबमास्टर में सबमिट करते है ताकि जल्दी से अपने वेबसाइट के प्रत्येक पेज को गूगल इंडेक्स कर ले फिर वह से हम लोग ऑफ पेज SEO का काम करते है।

SEO के कारन ही हम अपने बिज़नेस इनक्रीस कर सकते है और बहुत अधिक money earn कर सकते है इसलिए SEO बहुत जरुरी है अगर आप ऑनलाइन बिज़नेस करते हो तो या ऑनलाइन बिज़नेस स्टार्ट करना चाहते हो तो SEO एक अलग ही दुनिया है जहाँ आदमी पहुंच गया और अच्छी तरह सिख गया तो money उसके कदम चूमेगी आज के ज़माने में SEO का बहुत डिमांड है। इसलिए आइये आज हम SEO के बारे में जानते है शुरू से अंत तक स्टेप by स्टेप।

अगर हमारे जानकारी अच्छी लगे तो जरूर शेयर कीजियेगा इसके लिए सुक्रिया आपलोगो को।

Seo Kya hai - SEO क्या है? SEO क्यों जरुरी है?

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करें?

अगर आप एक seo expert हो तो अच्छे से ये बात जानते होंगे की seo क्यों इतना important है अगर आपके पास एक वेबसाइट है और आप बिज़नेस अपने वेबसाइट के जरिये करते है तो बिज़नेस को और अधिक ग्रो करने के लिए seo का हेल्प लेना पड़ता है।

seo में सबसे main बात यह होता है की quality कंटेंट होना चाहिए तभी जाके आपकी वेबसाइट रैंक करेगी otherwise कभी भी रैंक नहीं करेगी। आप अगर अच्छा और बेहतरीन कंटेंट यूजर के सामने शो करते है तो यूजर और अधिक इंट्रेस्ट रखेगा आपकी कंटेंट को रीड करना और आपसे सर्विसेज को लेना इसलिए seo में कंटेंट किंग होता है इसलिए आप हमेशा हाई क्वालिटी कंटेंट published कीजिये।

अपने वेबसाइट का on page seo और off page seo कीजिये और दूसरे वेबसाइट पर जाकर लिंक बिल्डिंग भी कीजिये जिससे आपकी वेबसाइट का डोमेन अथॉरिटी इनक्रीस होगा।

SEO क्या है SEO क्यों जरुरी है?

SEO एक ऐसा टेक्निक है जिसके अंतर्गत अपने वेबसाइट को गूगल के टॉप रैंक पर ला सकते है। और ज़्यदा से ज़्यदा अपना बिज़नेस को ग्रो कर सकते है यह बहुत आसान है बस करने आना चाहिए और इसके बारे में आप सभी को जानकारी होगी तो आप स्वयं कर सकते है। SEO से तात्पर्य search engine optimization है।" सरल शब्दों में, इसका अर्थ relevant searches के लिए आपकी Website की visibility बढ़ाने के लिए उसे बेहतर बनाने की प्रक्रिया है। search results में आपके page की visibility जितनी बेहतर होगी, आपके business की ओर ध्यान आकर्षित करने और संभावित और मौजूदा ग्राहकों को आकर्षित करने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।

SEO Kaise Work Karta hai

Seo kaise kaam karta hai - SEO कैसे काम करता है?

गूगल और बिंग जैसे सर्च इंजन bots का इस्तेमाल वेब पर पेजों को क्रॉल करने, एक साइट से दूसरे साइट पर जाने, उन पेजों के बारे में जानकारी एकत्र करने और उन्हें एक इंडेक्स में डालने के लिए करते हैं। इसके बाद, algorithms इंडेक्स में pages का विश्लेषण करता है, सैकड़ों रैंकिंग factors या signals को ध्यान में रखते हुए, यह determine करने के लिए कि किसी दिए गए query के लिए खोज परिणामों में order pages दिखाई देने चाहिए।

user experience के aspects के लिए Search ranking factors को proxies माना जा सकता है। SEO Factors की हमारी Periodic Table factors को six main categories में व्यवस्थित करती है और प्रत्येक को SEO के content importance के आधार पर weight करती है। उदाहरण के लिए, content quality and keyword और crawlability and mobile-friendliness महत्वपूर्ण साइट architecture factors हैं।

search algorithms relevant, authoritative pages को प्रदर्शित करने और users को एक कुशल खोज अनुभव प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। इन factors को ध्यान में रखते हुए अपनी साइट और content को अनुकूलित करने से आपके pages को search results में उच्च रैंक प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

SEO का क्या मतलब है?, इसका क्या उपयोग है?

SEO kya hai - SEO kaise kare - SEO का मतलब होता है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search Engine Optimization) इसमें जितने भी ब्लॉगर होते है वे सभी गूगल के guideline को फॉलो करते हुए अपनी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करते है, जिससे उनकी वेबसाइट गूगल में जल्दी से इंडेक्स होती है। SEO का main ऑब्जेक्ट होता है किसी भी ब्लॉग को टॉप रैंक कराना। इसमें टैग्स को ऑप्टिमाइज़ करते है , बैकलिंक दूसरे वेबसाइट पर जाकर बनाते है , इमेज में टाइटल और ऑल्ट टैग देते है जिससे इमेज हमारे रैंक करते है। हैडिंग, subheading, बुलेट्स पॉइंट्स, इत्यादि प्रॉपर तरीके से देते है।

SEO Marketing

Seo marketing ke liye kyu jaruri hai - मार्केटिंग के लिए SEO क्यों जरूरी है?

SEO डिजिटल मार्केटिंग का एक मूलभूत हिस्सा है क्योंकि लोग हर साल खरबों खोज करते हैं, अक्सर व्यावसायिक इरादे से उत्पादों और सेवाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए। खोज अक्सर ब्रांडों के लिए डिजिटल ट्रैफ़िक का प्राथमिक स्रोत होता है और अन्य मार्केटिंग चैनलों का complements होता है। आपकी competition की तुलना में search results में अधिक visibility and ranking आपके bottom line पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकती है।

हालांकि, search results पिछले कुछ वर्षों में विकसित हो रहे हैं ताकि users को अधिक प्रत्यक्ष उत्तर और जानकारी दी जा सके जो users को अन्य वेबसाइटों पर ले जाने के बजाय result page पर रखने की अधिक संभावना है।

यह भी ध्यान दें, search result में rich results और Knowledge Panels जैसी सुविधाएं visibility बढ़ा सकती हैं और users को सीधे results में आपकी कंपनी के बारे में अधिक जानकारी प्रदान कर सकती हैं।

SEO Learn

Seo Kaise sikh skte hai - मैं SEO कैसे सीख सकता हूँ?

Seo सीखने के लिए हमलोग को HTML पेज के बारे में भी जानकारी लेने होगी पहले फिर सो करना होगा थोड़ा बहुत HTML का जानकारी आपलोगो को होना अति आवश्यक है। सो सीखने के लिए सबसे पहले कंटेंट कीवर्ड, इमेज, वीडियो, बैकलिंक्स,मेटा डिस्क्रिप्शन, कैनोनिकल टैग इतियादी के बारे में जानना होगा मै स्टेप by स्टेप आपलोगो को वो टर्म देता है जो सो भी बहुत इम्पोर्टेन्ट रोले प्ले करता है इस सारी बात को ध्यान में रखकर अगर आप सो करते है तो बहुत जल्दी आपकी वेबसाइट गूगल के टॉप रैंक पर आ जायेगी आइये -

  • 1. Good Page Title
  • 2. Good Meta Title Description
  • 3. Good Content
  • 4. Image relevant with the content
  • 5. Video Implement in your page
  • 6. Image tag should have to alt tag
  • 7. Heading to h1 to h5
  • 8. Backlinks create on another website
  • 9. Domain authority increase
  • 10. On Page Seo
on page seo

On page seo kya hai - On-Page SEO क्या है?

On-page SEO on-site seo के रूप में भी जाना जाता है एक वेबसाइट की सर्च इंजन रैंकिंग में सुधार करने और oragnic trafffic अर्जित करने के लिए वेब पेजों को अनुकूलित करने के practice को refers करता है।

Relevant, high-quality content प्रकाशित करने के अलावा, on-page SEO में आपकी headlines, HTML tags (title, meta, and header), and images को अनुकूलित करना शामिल है। इसका मतलब यह भी सुनिश्चित करना है कि आपकी वेबसाइट में high level of expertise, authoritativeness, and trustworthiness है।

  • 1. Title Tags
  • 2. Headings (H1)
  • 3. URL structure
  • 4. Alt text for images
  • 5. Fast-loading pages, or page load speed
  • 6. Mobile Friendliness
  • 7. Page content
  • 8. Internal Linking
  • 9. Schema Markup

1. Title Tags

अपने targeted keywords को अपनी साइट के प्रत्येक page के title tag में रखें। अपने title tags को 55-60 characters तक सीमित रखे | अपने keywords stuff न करे title tag के अंत में brand शामिल करें, जिसे pipe bar (|) से डेनोटे किया जाता है

2. Headings (H1)

Headings आमतौर पर page पर सबसे बड़े शब्द होते हैं, और इस कारण से, search engine उन्हें आपकी अन्य page copy की तुलना में थोड़ा अधिक वजन देते हैं। प्रत्येक web page के headings में अपने target keywords को काम करना एक अच्छा विचार है, लेकिन सुनिश्चित करें कि आप अपने page की best content को सटीक रूप से reflect करते हैं।

सुनिश्चित करें कि आपके H1 heading होना चाहिए इसके अलावे h2 heading h3 heading भी होने चाहिए।

3. URL structure

यदि संभव हो तो अपने URL में keyword डालें। हालांकि, अपने सभी मौजूदा URL को सिर्फ इसलिए न बदलें कि उनमें कीवर्ड हों। जब तक आप अपने पुराने URL को अपने नए URL पर Replace करने की योजना नहीं बनाते हैं, तब तक आपको पुराने URL नहीं बदलने चाहिए। ऐसा करने से पहले किसी professional से सलाह लें।

अपनी directories and folders को इस तरह से लेबल करें जो users के लिए समझ में आता है अपने URL में कीवर्ड को एक से अधिक बार न दोहराएं। कीवर्ड मददगार है, लेकिन इसे ज़्यादा करने से users के अनुभव पर असर पड़ता है। URL को जितना हो सके उतना छोटा रखें

4. Alt text for images

Website के प्रत्येक page के image tag में alt tag देना अति आवश्यक है ताकि सर्च इंजन के टॉप रैंक पर जल्दी से आये इमेज में ऑल्ट टैग लगाने से बहुत लाभ है इसलिए आप इमेज में ऑल्ट टैग जरूर लगाइयेगा। इमेज में ऑल्ट टैग के अलावे डिस्क्रिप्शन टैग भी लगाइयेगा जो उस इमेज के बारे में बताता हो ऐसा करने से गूगल के टॉप रैंक पर image, title , description ये तीनो शो करता है जो हमारे लिए बहुत फक्र की बात होगी और टॉप में शो करेगी

5. Fast-loading pages, or page load speed

वेबसाइट बनाते टाइम ध्यान में रखें हमेशा ये बातकरे जो की बिना काम वाला कोड प्रयोग न करे कम से कम कोड का प्रयोग करे और ऐसा कोड प्रयोग करे जिसका हमलोग बार बार प्रयोग कर सके ऐसा इसलिए ताकि हमारे पेज का फाइल साइज काम रहेगा जितना फाइल साइज काम रहेगा उतना ही पेज स्पीड increase होगा

जयदा जस फाइल या जक्वेरी फाइल प्रयोग न करे कम से कम करे इमेज काम साइज का प्रयोग करे हाई क्वालिटी इमेज प्रयोग न करे और प्लगिन्स काम से काम प्रयोग करे ताकि हमारे वेबसाइट की पेज स्पीड बिलकुल ठीक रहे वेबसाइट के पेज स्पीड को चेक करने के लिए गूगल की इस वेबसाइट पर जाके देख सकते है ऑनलाइन ये लिंक है -

6. Mobile Friendly

वेबसाइट डिज़ाइन करते टाइम हमे ये बात ध्यान में रखना चाहिए की जो हम वेबसाइट बना रहे है वो मोबाइल , tab , डेस्कटॉप सभी स्क्रीन पर अच्छी तरह से देखे ये seo में बहुत इम्पोर्टेन्ट होता है इसलिए प्रत्येक वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली होने चाहिए जो यूजर डिवाइस के अनुसार अपना स्क्रीन को एडजस्ट कर ले इसी को मोबाइल फ्रेंडली बोला जाता है।

मोबाइल फ्रेंडली के मतलब होता है की वेबसाइट को किसी भी डिवाइस पर खोला जाए तो सभी डिवाइस पर अच्छी तरह से देखे।

7. Page Content

वेबसाइट कंटेंट बहुत इम्पोर्टेन्ट होता है यही वेबसाइट की किंग होता है ये है तो वेबसाइट है नहीं तो कुछ नहीं। ऐसा समझ लीजिये की वेबसाइट का एक्सिस्टेंस कंटेंट होता है कंटेंट अपने पेज टाइटल के अनुसार होना चाहिए यानि पेज टाइटल के ही कंटेंट होनी चाहिए हम कोई और कंटेंट नहीं लिख सकते है कीवर्ड को ध्यान रखकर कंटेंट लिखा जाता है

प्रत्येक पेज में कंटेंट कम से कम २००० वर्ड का होना चाहिए ताकि गूगल के टॉप रैंक पर शो करे कंटेंट हमेशा प्रोफेशनल एक्सपर्ट से लिखवानी चाहिए क्युकी कंटेंट ही वेबसाइट का सब कुछ होता है इसलिए कंटेंट बहुत सोच समाज के और यूजर का ध्यान रखते हुए लिखने चाहिए

8. Internal Linking

वेबसाइट में इंटरनल लिंकिंग होना बहुत जरुरी है जिससे यूजर बहुत दर तक हमारी वेबसाइट पर स्टे कर सके इसलिए इंटरनल लिंकिंग जरूर लगानी चाहिए

इंटरनल लिंकिंग एक पेज को दूसरे पेज से कनेक्ट करता है जिससे यूजर दूसरे पेज को एक्सेस करता है और हमारे पोस्ट को रीड करता है इंटरनल लिंक दो पेज को जोड़ने का काम करता है एक दूसरे को कनेक्ट करता है ऐसा इंटरनल लिंक सारे पेज में बनाने चाहिए जिससे यूजर जयदा से जयदा टाइम बिताये वेबसाइट पर ये बात कोई नहीं बताता लेकिन हमलोग का मकसद होता है की यूजर को सारे जानकारी मिले

9. Schema Markup

स्कीमा मार्कअप एक ऐसे तकनीक है की वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ाती है और वेबसाइट को एक नई रूप में शो करते है गूगल के पेज पर जो देखने में बहुत अच्छा देखता है और यूजर को बहुत पसंद आता है और यूजर उसी को जयदा पसंद करते है पढ़ना इसलिए आपलोगो की वेबसाइट में स्कीमा मार्कअप होनी चाहिए स्कीमा मार्कअप गूगल पर सर्च करेंगे आपलोग तो आपलोगो को मिल जाइएगा बहुत आसान है स्कीमा मार्कअप लगाना अपने वेबसाइट में थोड़ा सा कोड होता है जिसको अपने वेबसाइट में इम्प्लीमेंट करने होती है

ऑफ पेज SEO क्या है और कैसे करे?

off page seo kya hai और kaise kare ? - यह सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का एक पार्ट होता है जिसे हम ऑफ पेज seo कहते है इसमें हमलोग अपने वेबसाइट के बाहर जितना वर्क करते है उसे हमलोग off page seo के नाम से जानते है आइये अब off page seo kaise kare ? जानते है -

१. off page seo में लिंक बिल्डिंग का काम सबसे पहले करते है। क्युकी लिंक बिल्डिंग के द्वारा हम अपनी वेबसाइट को यानि किसी एक specific पेज को टारगेट करके रैंक कराते है। इसमें अगर हमारा कॉम्पिटिटर का बैकलिंक मान लीजिये 100 है और आपकी साइट का बैकलिंक 110 है तो रैंकिंग आपकी वेबसाइट की होगी इसलिए बैकलिंक बनाना बहुत जरुरी होता है।

२. high domain authority :- off page seo के अंतर्गत हम अपनी डोमेन का DA यानि डोमेन अथॉरिटी इनक्रीस करते है अगर आप अपनी ब्लॉग का da बढ़ाना चाहते है तो उन सभी वेबसाइट को टारगेट कीजिये जिसका da 90 से अधिक हो और वहाँ पर जाकर बैकलिंक बनाइये तो आपकी वेबसाइट का da इनक्रीस होगा।

३. Digital marketing कीजिये ये भी off page seo के अंतर्गत आता है जिसमे सोशल मीडिया ऑप्टिमाइजेशन, ईमेल मार्केटिंग कीजिये। आप इसमें अपने कीवर्ड रिलेटेड एक पोस्टर बनाइये और लिंक के साथ शेयर कीजिये जिससे आपकी वेबसाइट में ट्रैफिक मिलेगा।

Conclusion

हमलोग को बहुत ख़ुशी होती आपलोगो के सामने जानकारी रखने में जिससे आपलोगो को कुछ सीखने को मिले और आपलोगो उसका प्रयोग भी कर सके आज आपलोग SEO क्या है और इसके प्रकार? , seo kyu jaruri hai, on page seo kya hai के बारे में बहुत कुछ सिख चुके है और अब आपलोगो कोई प्रॉब्लम नहीं होगी। आशा करते है हमारे जानकारी से आपलोग संतुस्ट होंगे अतः हमारे पोस्ट को फेसबुक पर शेयर कर ताकि जो नहीं जानते उनलोगो को जानकारी मिले सुक्रिया।

Internet

Software

Computer

Digital Marketing

Youtube Tourist Place Vlog