HTML क्या है in Hindi? और HTML से आप क्या समझते है?

HTML एक हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज होता है जिसका उपयोग वेब पेज और वेब एप्लिकेशन बनाने के लिए किया जाता है। आइए देखें कि हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज और वेब पेज का क्या मतलब है। हाइपर टेक्स्ट: हाइपर टेक्स्ट का सीधा सा अर्थ होता है की "टेक्स्ट के भीतर टेक्स्ट।" एक टेक्स्ट के भीतर एक लिंक होता है, जो एक हाइपरटेक्स्ट है। जब भी आप किसी ऐसे लिंक पर क्लिक करते हैं जो आपको एक नए वेबपेज पर ले जाया जाता है, हाइपरटेक्स्ट दो या दो से अधिक वेब पेजों (HTML Document ) को एक दूसरे से जोड़ने का एक तरीका है।

HTML Kya Hai - HTML मार्कअप भाषा [Markup Language ]: मार्कअप भाषा एक Computer Language है जिसका उपयोग टेक्स्ट दस्तावेज़ में Layout design and Formatting के लिए किया जाता है। मार्कअप भाषा टेक्स्ट को अधिक क्रिएटिव and डयनमिक बनाती है। यह टेक्स्ट को इमेज, टेबल, लिंक आदि में बदल सकता है।

वेब पेज: एक वेब पेज एक document होता है जिसे आमतौर पर HTML में लिखा जाता है और एक वेब ब्राउज़र द्वारा translate किया जाता है। एक यूआरएल दर्ज करके एक वेब पेज की पहचान की जा सकती है। एक वेब पेज static या dynamic type का हो सकता है। HTML की मदद से ही हम स्टैटिक वेब पेज बना सकते हैं।

HTML क्या है in Hindi? और HTML से आप क्या समझते है?

HTML Se Aap Kya Samjhate Hai

HTML web pages और web based apps बनाने में इस्तेमाल होने वाली एक मार्कअप लैंग्वेज होती है। जब हम किसी भी वेब ब्राउज़र को ओपन करते है, और किसी वेबसाइट के पेज को ओपन करने पर उसके वेब सर्वर से HTML के रूप में डॉक्यूमेंट प्राप्त होता है, जिसे वेब ब्राउज़र मल्टीमीडिया वेब पेज में चेंज कर देता है।

HTML में विशेषता क्या है?

HTML की मुख्य विशेषता यह है कि HTML Programming लैंग्वेज learning करना बहुत ही आसान है आप इसे अच्छे तरह से सिख सकते है, और इसका उपयोग अपने वेब पेज में आसानी से कर सकते है। एचटीएमएल का उपयोग वेबसाइट बनाने के लिए किया जाता है। HTML को सभी formatting टैग की मदद से effective representations दी जा सकती हैं।

HTML टैग्स के बारे में क्या सच है?

एचटीएमएल टैग का use एचटीएमएल डॉक्यूमेंट बनाने और उनकी properties को display करने के लिए किया जाता है। प्रत्येक HTML टैग में अलग-अलग properties होते हैं। एक HTML फ़ाइल में कुछ required tags होने चाहिए जिससे की web browser एक simple tag और HTML टेक्स्ट के बीच अंतर कर सके।

HTML kya hota hai

हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (एचटीएमएल) क्या है? हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (एचटीएमएल) इंटरनेट पर प्रदर्शित करने के लिए Intended file में डाले गए मार्कअप language कोड का सेट है। मार्कअप लैंग्वेज वेब ब्राउज़र को वेब पेज के words and images को प्रदर्शित करने का तरीका बताता है। प्रत्येक individual piece मार्कअप कोड (जो "<" और ">" characters के बीच होगा) को एक element के रूप में referred किया जाता है, हालांकि कई लोग इसे एक टैग के रूप में भी संदर्भित करते हैं। कुछ element जोड़े में आते हैं जो indicate करते हैं कि कुछ performance effect कब शुरू होना है और कब समाप्त होना है।

html full form kya hai

HTML Kya Hai? - HTML का मतलब यानि फुल फॉर्म हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज है। यह एक standard markup language है जिसका उपयोग उन documents को डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है जो ब्राउज़र में वेब-पेज के रूप में प्रदर्शित होंगे। CSS सीएसएस (कैस्केडिंग स्टाइल शीट) और JS जेएस (जावास्क्रिप्ट) का उपयोग करके यह लैंग्वेज अधिक इंटरैक्टिव और आकर्षक बन सकती है। HTML शब्द इसके भीतर कुछ विशिष्ट अर्थ को परिभाषित करता है। हाइपरटेक्स्ट हाइपरलिंक से आता है जिसका अर्थ है कई पेजेज के बीच संबंध, मार्कअप का अर्थ है कि परिभाषित तत्व पेज लेआउट और पेज के भीतर के एलिमेंट होंगे। यह लैंग्वेज दोनों सुविधाओं को जोड़ती है और इसे हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज बनाती है।

HTML का उपयोग

HTML एक मार्कअप भाषा है जिसका वेब पेज और वेब एप्लिकेशन बनाने के लिए अत्यधिक उपयोग किया जाता है। HTML का उपयोग वेब दस्तावेज़, इंटरनेट नेविगेशन आदि के लिए किया जाता है। कुछ html का important use निम्न है जो निचे दिए गए है

  1. Web pages development
  2. Web document Creation
  3. Internet navigation
  4. Cutting edge feature
  5. Responsive images on web pages
  6. Client-side storage
  7. Data Entry support with HTML
  8. Game development usage

html tags

html के बहुत सारे tags होते है जहाँ हमलोग को जो tag का जरुरत पड़ता है उस tag को यूज़ करते है html tag डिज़ाइन पर depend करता है की आपको किस टाइप का डिज़ाइन चाहिए उसी के अनुसार हमलोग tag का प्रयोग करते है तो कुछ इम्पोर्टेन्ट tag निचे दिए गए है जिसे आप देख सकते है जिसका ज्यादा इस्तेमाल होता है।

<a></a> for link. <b> </b> to make bold text. <strong></strong> for bold text with emphasys. <body></body> main HTML part. <br /> for break. <div> </div> it is a division or part of an HTML document. <h1></h1> ... for titles. <i> </i> to make an italic text. <img> for images in document.

एचटीएमएल कोडिंग

HTML Coding का मतलब हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज है जिसकी हेल्प से वेब पेज बनाया जाता है। यह वेब पेज की संरचना का describe करता है इसमें बहुत सारे एलिमेंट का सीरीज होती है इस कोडन को देखने के लिए ब्राउज़र का प्रयोग करते है।

<!DOCTYPE html> <html> <head> <title>Page Title</title> </head> <body> <h1>My First Heading</h1> <p>My first paragraph.</p> </body> </html>

html example

HTML Coding का मतलब हाइपर टेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज है जिसकी हेल्प से वेब पेज बनाया जाता है। यह वेब पेज की संरचना का describe करता है इसमें बहुत सारे एलिमेंट का सीरीज होती है इस कोडन को देखने के लिए ब्राउज़र का प्रयोग करते है।

1. <!DOCTYPE html> 2. <html> 3. <head> 4. <title> 5. <meta> 6. <body> 7. <h1> to <h6> 8. <p>

RTF और HTML टेक्स्ट से आप क्या समझते है समझाइए?

Documents को ठीक से format करने के लिए टैग के उपयोग के कारण RTF (रिच टेक्स्ट फॉर्मेट) और HTML (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) two similar formats हैं। एक दूसरे के समान होने के बावजूद, दोनों formats के बीच कई अलग-अलग अंतर हैं। RTF और HTML के बीच प्राथमिक अंतर उनका उपयोग है। जबकि HTML का उपयोग इंटरनेट पर content transmit करने के लिए किया जाता है, RTF का उपयोग मुख्य रूप से टाइप किए गए documents files को संग्रहीत करने के लिए एक format के रूप में किया जाता था। RTF को Microsoft Word के शुरुआती दिनों में विकसित किया गया था, लेकिन तब से इसे DOC और DOCX formats द्वारा बदल दिया गया है।

RTF और HTML दोनों में टेक्स्ट को फॉर्मेट करने और अलग-अलग फॉन्ट, साइज के साथ-साथ बोल्ड और इटैलिक जैसे अलग-अलग टाइपफेस के साथ यह कैसा दिखता है, इसे modifying करने के provisions हैं। आप दोनों के साथ चित्रों को शामिल करने की क्षमता भी रखते हैं; वे ऐसा करने के तरीके में बस एक मामूली अंतर है। आरटीएफ के साथ, आप जिस छवि को शामिल कर रहे हैं वह फ़ाइल में एम्बेड हो जाती है। यह फ़ाइल का आकार बढ़ाता है लेकिन यह सुनिश्चित करता है कि फ़ाइल खोलने पर आपको हमेशा छवि दिखाई देगी। इसकी तुलना में, HTML में छवियों को एम्बेड करने की क्षमता नहीं है; यह क्या करेगा छवि को संग्रहीत करने के लिए एक लिंक स्टोर करें। यह HTML फ़ाइलों के आकार को कम रखता है, लेकिन जब आप HTML फ़ाइल खोलते हैं तो आप छवि के न होने का जोखिम उठाते हैं। यह फाइलों के आकार को कम करने के लिए भी किया गया था; चूंकि एक ही छवि का कई पृष्ठों द्वारा उपयोग किया जाना आम बात है, इसलिए फ़ाइल की एक प्रति रखना अधिक समझ में आता है।

आरटीएफ और एचटीएमएल फाइलों में आप जिन फाइलों को डाल सकते हैं, उनमें भी अंतर होता है। छवियों से शुरू होकर, HTML एनिमेटेड GIF सहित अधिकांश प्रकारों को लोड कर सकता है। इसके विपरीत, आरटीएफ में एनिमेटेड फाइलें शामिल नहीं हो सकती हैं, और यहां तक ​​​​कि अभी भी छवियां केवल कुछ प्रारूपों तक ही सीमित हैं। जब आप किसी छवि को RTF फ़ाइल में पेस्ट करते हैं, तो वह स्वचालित रूप से उसे स्वीकृत प्रारूप में बदल देगी। जब ऑडियो और वीडियो जैसे अन्य मीडिया की बात आती है, तो एचटीएमएल के साथ यह बहुत आसान है जबकि आरटीएफ के साथ बिल्कुल मौजूद नहीं है।

HTML और RTF के बीच के अंतर इस बात से closely related हैं कि वे क्या करने के लिए हैं। HTML सभी प्रकार की content वितरित करने के लिए एक versatile format है। यह आरटीएफ से बहुत अलग है, जो टाइप किए गए documents का भंडारण है।

  • 1.RTF का उपयोग दस्तावेज़ों को संग्रहीत करने के लिए किया जाता है जबकि HTML का उपयोग इंटरनेट पर सामग्री प्रसारित करने के लिए किया जाता है।
  • 2.RTF छवियों को फाइलों में एम्बेड करता है जबकि HTML सिर्फ उनसे लिंक करता है।
  • 3.HTML RTF की तुलना में बहुत अधिक छवि प्रकारों का समर्थन करता है।
  • 4.HTML वीडियो और ऑडियो एम्बेड कर सकता है जबकि RTF नहीं कर सकता।

एचटीएमएल संपादक के गुण क्या हैं समझाएं?

आपको HTML संपादक का उपयोग कब करना चाहिए?

  1. 1. डेवलपर्स HTML editors का उपयोग करना पसंद करते हैं जब वे अपने कोड पर पूर्ण नियंत्रण रखना चाहते हैं और आसानी से अपनी वेबसाइट बनाना चाहते हैं।
  2. 2. HTML editors उन users के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, जिन्हें अभी तक HTML का अधिक ज्ञान नहीं है, और उनके लिए भी जिन्हें जल्दी से स्रोत कोड उत्पन्न करने की आवश्यकता है।
  3. 3. HTML संपादक सुविधा के लिए अत्यधिक फायदेमंद होते हैं क्योंकि वे सिंटैक्स सुधार, स्वत: पूर्णता, सरल संपादन इत्यादि द्वारा डेवलपर्स की छोटी-छोटी त्रुटियों के हिस्से को सफलतापूर्वक छुपाते और ठीक करते हैं।

HTML संपादकों [ Editors ] का उपयोग करने के लाभ

  • 1. वे बहुत लाभ के हैं क्योंकि वे उपयोगकर्ताओं को आसानी से अपने वाक्यविन्यास की जांच करने, सामान्य रूप से उपयोग किए जाने वाले HTML टैग और संरचनाओं को सम्मिलित करने और स्वत: पूर्णता प्रदान करने की अनुमति देते हैं।
  • 2. HTML संपादक के माध्यम से उत्पन्न कोड का अन्य भाषाओं जैसे XML, जावास्क्रिप्ट, आदि में अनुवाद किया जा सकता है। उदाहरण के लिए-एनवीयू संपादक यह अनुवाद कार्यक्षमता प्रदान करता है।
  • 3. वेबसाइट का विकास बहुत थकाऊ और बोझिल हो सकता है। ऑनलाइन HTML संपादकों की सहायता से, आसानी से और तेज़ दर पर वेबसाइट बनाना संभव है।
  • 4. HTML संपादक डेवलपर को पूर्ण नियंत्रण प्रदान करते हैं, इसलिए उसे स्रोत कोड में गहराई से जाने और छिपी हुई पेचीदगियों को खोजने में मदद करते हैं।
  • 5. HTML संपादक एक सौहार्दपूर्ण और सौंदर्यपूर्ण डिजाइनिंग अनुभव प्रदान करते हैं।

HTML Design टूल्स क्या है?

HTML में एक ही डिज़ाइन टूल होती है, जिसको हमलोग css के नाम से जानते है। यह हमारे वेब पेज की frontend को स्टाइलिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

HTML design tool के जरिये हम अपनी वेबसाइट का एक attractive look दे सकते है जैसे- navigation menu, slider, button एंड footer section का स्टाइलिंग कर सकते है।

HTML file कैसे खोले?

जब आप एक html पेज को बना रहे होते है, तो कुछ बातो का आप ध्यान रखिये जैसे - html पेज जब save करते है तो index.html या index.htm नाम जरूर दीजिये तभी जाके आप इस html file को वेब browser पर ओपन कर सकते है। html फाइल पर right click करके open with google chrome करिये तो गूगल के वेब ब्राउज़र में ओपन हो जाएगा। इस तरह आप एक html file को open और access कर सकते है।

Effective page design in HTML in Hindi

अगर आप अपने वेबसाइट के अंदर एक effective page design करना चाहते है तो HTML पेज के अंदर पहले आपको स्ट्रक्चर क्रिएट करना होगा; आइये अब एक attractive structure कैसे क्रिएट करे? -

1. HTML पेज में structure क्रिएट करने से पहले आप adobe photoshop में अपनी html page का layout design कर लीजिये, लेआउट डिज़ाइन करने के लिए आप इंटरनेट पर जाइये और बहुत तरह के वेबसाइट को विजिट कीजिये आपको जो जो पोरशन अच्छा लगे तो उसको cut करके कही रख लीजिये फिर उन सभी को एडोबी फोटोशॉप की मदद से डिज़ाइन कर लीजिये।

2. जब एडोबी फोटोशॉप में लेआउट डिज़ाइन हो जाने के बाद आप उसे html में कन्वर्ट करेंगे यानि जिस तरह का स्ट्रक्टर होगा उस तरह टैग्स यूज़ करके वेब पेज डिज़ाइन करियेगा।

3. जब लेआउट का सारे सेक्शन आप design कर लेते है तो उसमे कंटेंट यानि टेक्स्ट , इमेजेज और वीडियो इम्पोर्ट करेंगे।

4. सबसे लास्ट में css यानि cascading stylesheet जो की बहुत ही इम्पोर्टेन्ट होता है एक effective web page बनाने में इसका बहुत बड़ा योगदान होता है। अगर जरुरत पड़े तो आप svg या gif इमेज भी use कर सकते है।

HTML टैग क्या है? समझाइए

HTML tag kya hai - html पेज में जब हम कोई डिज़ाइन बनाते है तो हमे बहुत सारे कोड्स लिखने होते है जिन्हे हम टैग्स के नाम से जानते है। टैग एक hidden code होता है जो less then और greater then के अंदर लिखा जाता है।

टैग्स वेब पेज में शो नहीं होते है मेरा मतलब है की html कोड्स कभी वेब पेज में शो नहीं होते है टैग्स के अंदर जो भी कंटेंट होता है ओनली वही शो होता है जैसे - इमेजेज, वीडियोस और टेक्स्ट।

टैग्स कितने प्रकार के होते है?

Tags kitne prakar ke hote hai - html tags 2 प्रकार के होते है।

  • १. paired tag :- वैसा टैग जिसकी starting एंड closing दोनों होती है उसे हम paired tag कहते है 90% html tag में paired tag hote है।
  • २. unpaired tag :- वैसा टैग जो अपने आप में closing रखता है उसे unpaired tag कहते है जैसे - br tag , img tag और hr tag इतियादी।

क्वेश्चन और आंसर

जब एक वेबसाइट या वेब एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर बनाई जाती है तो डिज़ाइनर, या programmer या सॉफ्टवेयर engineer को एक code editing सॉफ्टवेयर की जरुरत पड़ती है जिसमे वह codes लिखता है जैसे- adobe dreamweaver, sublime text editor, netbeans है इसमें जो कोड पहले स्टार्ट करते है उसका क्लोजिंग आटोमेटिक हो जाता है जिससे code error होने की possibility बहुत कम हो जाती है और ये सभी सॉफ्टवेयर बहुत तरह फैसिलिटी provide करती है जैसे - कोई कोड को किसी specific code के साथ कनेक्ट करना है तो find एंड replace का प्रयोग करते है। इस तरह html editor सॉफ्टवेयर से बहुत तरह के फायदे है।

Tags

  • HTML में heading कितने प्रकार का होता है?
  • एचटीएमएल क्या है एचटीएमएल एडिटर और इमेज एडिटर से आप क्या समझते हैं?
  • CSS से आप क्या समझते हैं?
  • html पेज बनाने के लिए निम्न में से किसकी आवश्यकता होती है?
  • CSS से आप क्या समझते हैं विस्तार पूर्वक व्याख्या कीजिए?
  • वेब स्टैंडर्ड कौन बनाता है?
  • फॉर्म टैग की विशेषता क्या है?
  • हाइपरटेक्स्ट को परिभाषित करें कि हम HTML दस्तावेज़ कैसे बनाते हैं?

Trending Topics

News

Mobile

Internet

Software

Computer

Digital Marketing

Youtube Tourist Place Vlog